Header Ads

ट्रम्प ने रिटायर्ड कर्मियों के हेल्थकेयर प्रोग्राम पर झूठ बोला, रिपोर्टर ने सवाल किया तो कहा- बहुत धन्यवाद और प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़ दी

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने झूठ पकड़े जाने पर प्रेस कॉन्फ्रेंस बीच में ही छोड़ दी। वह ओबामा प्रशासन में पास हुए एक हेल्थ केयर प्रोग्राम को अपनी उपलब्धि बता रहे थे। इस दौरान जब एक रिपोर्टर ने टोका तो वह कॉन्फ्रेंस बीच में ही छोड़कर चले गए। ट्रम्प इसको लेकर 150 बार से ज्यादा झूठ बोल चुके हैं।

ट्रम्प ने कहा- दशकों से जो नहीं हुआ, हमने कर दिखाया
न्यूजर्सी के गोल्फ क्लब में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रम्प ने दावा किया कि उन्होंने ही रिटायर्ड कर्मियों के हेल्थ केयर प्रोग्राम (वेटेरन्स चॉइस प्रोग्राम) को पास किया है। उन्होंने कहा कि दशकों से लोग इसे पास कराना चाहते थे और कोई भी राष्ट्रपति इसे पास नहीं करा पाया था। हमने यह कर दिखाया।

2014 में पास हुआ था प्रोग्राम
सच यह है कि पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस प्रोग्राम पर 2014 में साइन किए थे। इसके तहत रिटायर्ड कर्मी किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज करवा सकते हैं और खर्च सरकार ही उठाएगी। उन्हें सरकार से लिस्टेड हॉस्पिटल जाने की जरूरत नहीं होती है। ट्रम्प ने 2018 में इसी प्रोग्राम का विस्तार किया था। इसके बाद से ट्रम्प सब जगह यह कहने लगे कि उन्होंने ही इस प्रोग्राम को बनाया और पास कराया। उन्होंने कहा कि दूसरे लोग 50 सालों से इस काम को करने में फेल हो रहे थे।

झूठ पकड़ा गया तो कहा- धन्यवाद
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीबीएस न्यूज की रिपोर्टर पाउला रेड ने पूछा, ‘‘आप लगातार यह क्यों कहते हैं कि आपने ही वेटेरन्स चॉइस प्रोग्राम पास किया? यह तो 2014 में ही पास हो गया था। यह गलत बयानबाजी है।’’ इसके बाद ट्रम्प रुके और कहा, ‘‘ओके, आप सभी का बहुत धन्यवाद।’’ इसके बाद वे प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर चले गए।

अमेरिका से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...

1. अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव:ट्रम्प ने कहा- नींद में रहने वाले बिडेन की जीत चाहता है चीन, उसकी ख्वाहिश हमारे देश पर हुकूमत करने की है

2. राहत देने की कोशिश:ट्रम्प ने आर्थिक राहत वाले आदेश पर दस्तखत किए; कहा- हम लोगों की नौकरियां बचाने और उनकी आर्थिक मदद के लिए हर कदम उठाएंगे



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ट्रम्प ने 2014 में ओबामा प्रशासन से पास हुए प्रोग्राम का विस्तार किया था। हालांकि, इसके बाद वह पूरे प्रोग्राम का श्रेय खुद लेने लगे।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30Hy0I3

No comments

Powered by Blogger.