Header Ads

खेल रत्न के लिए क्रिकेट vs ओलिंपिक खेल; क्या सचिन, धोनी और कोहली के बाद रोहित को मिलेगा सम्मान?

नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड के लिए खेल मंत्रालय की स्पेशल कमेटी की बैठक 17 और 18 अगस्त को होगी। इस बार राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन, द्रोणाचार्य और मेजर ध्यानचंद अवॉर्ड के लिए खेल मंत्रालय के पास 500 से ज्यादा आवेदन आए हैं। इस बार सभी की नजरें खेल रत्न पर होंगी, क्योंकि इसके लिए चौथी बार ओलिंपिक खेलों को क्रिकेट से चुनौती मिलेगी। हर बार की तरह खेल पुरस्कार 29 अगस्त को राष्ट्रपति द्वारा दिए जाएंगे।

दरअसल, इस बार खेल रत्न का मुकाबला क्रिकेटर रोहित शर्मा और ओलिंपियन पहलवान विनेश फोगाट, शूटर अंजुम मुदगिल, टेबल-टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा, महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल, थ्रोअर नीरज चोपड़ा और बॉक्सर अमित पंघाल के बीच है। हालांकि, इनके अलावा भी कई बड़े नाम हिमा दास, अपूर्वी चंदीला, किदांबी श्रीकांत भी राजीव गांधी खेल रत्न के दौड़ में शामिल हैं।

कमेटी के सदस्यों में वीरेंद्र सहवाग भी
अवॉर्ड विजेताओं के सेलेक्शन के लिए खेल मंत्रालय ने 12 सदस्यीय कमेटी गठित की थी। इसका नेतृत्व सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस मुकुंदकम शर्मा करेंगे। कमेटी के सदस्य पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग, पूर्व हॉकी प्लेयर सरदार सिंह, पैरालिंपिक रजत पदक विजेता दीपा मलिक, पूर्व टेबल-टेनिस खिलाड़ी मोनालिसा बरुआ मेहता, बॉक्सर वेंकटेशन देवराजन के अलावा पत्रकार आलोक सिन्हा और नीरू भाटिया सदस्य हैं।

खेल रत्न के लिए 42 आवेदन
कोरोना के कारण पहली बार खेल मंत्रालय ने ऑनलाइन आवेदन मंगाए थे। इस साल राजीव गांधी खेल रत्न के लिए 42 आवेदन आए हैं। जबकि अर्जुन अवॉर्ड के लिए 215 और द्रोणाचार्य के लिए 140, मेजर ध्यानचंद पुरस्कार के लिए 81 और राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार के लिए 28 आवेदन आए हैं।

बीसीसीआई ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए ईशांत शर्मा और शिखर धवन का नाम भेजा है।

रोहित के अलावा बीसीसीआई ने शिखर धवन और तेज गेंदबाज इशांत शर्मा को अर्जुन अवॉर्ड देने की सिफारिश की है। महिला वर्ग में बोर्ड ने ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा का नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा है।

सेलेक्शन के लिए 2016 से 2019 तक का प्रदर्शन देखा जाएगा
ओलिंपिक और पैरालिंपिक में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को आवेदन करने की जरूरत नहीं होती है। बाकी दूसरे खेलों से फेडरेशन या खिलाड़ियों आवेदन करना होता है। अवॉर्ड के लिए खिलाड़ियों को जो पॉइंट दिए जाते हैं, वे 90% प्रदर्शन और 10% व्यवहार (खेल भावना और अनुशासन) के आधार पर दिए जाते हैं। इस साल के अर्जुन अवॉर्ड और खेल रत्न के लिए जनवरी 2016 से दिसंबर 2019 तक के प्रदर्शन पर विचार किया जाएगा।

सेलेक्शन के लिए पॉइंट सिस्टम

  • 4 साल में होने वाली वर्ल्ड चैम्पियनशिप या वर्ल्ड कप में गोल्ड जीतने पर 40, सिल्वर के लिए 30 और ब्रॉन्ज जीतने पर 20 पॉइंट मिलते हैं।
  • वहीं, एशियन गेम्स में गोल्ड के लिए 30, सिल्वर जीतने पर 25 और ब्रॉन्ज के लिए 20 अंक दिए जाते हैं।
  • कॉमनवेल्थ गेम्स और हर 1 या 2 साल में होने वाली वर्ल्ड चैम्पियनशिप में गोल्ड जीतने पर 25, सिल्वर के लिए 20 और ब्रॉन्ज जीतने पर 15 अंक दिए जाते हैं।
  • वहीं, एशियन चैम्पियनशिप में गोल्ड के लिए 15, सिल्वर जीतने पर 10 और ब्रॉन्ज के लिए 7 पॉइंट मिलते हैं।
  • इसके अलावा दूसरे किसी टूर्नामेंट में बड़ी उपलब्धि हासिल करने पर पॉइंट्स का फैसला पैनल करता है।
  • क्रिकेट जैसे नॉन-ओलिंपिक खेलों के नामित खिलाड़ियों के सेलेक्शन के लिए भी कमेटी में बहुमत से फैसला होता है।
रोहित शर्मा वनडे में 3 दोहरे शतक लगाने वाले अकेले खिलाड़ी हैं।

2018 में भारतीय कप्तान विराट कोहली के बाद बीसीसीआई ने इस साल टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा का नाम खेल रत्न के लिए भेजा है। 4 साल से रोहित टीम के रेगुलर ओपनर रहे हैं। पिछले साल वनडे वर्ल्ड कप में उन्होंने 5 सेंचुरी लगाई थी। ऐसा करने वाले वे इकलौते बल्लेबाज हैं। रोहित को 2019 में आईसीसी वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया था।

रोहित ने अब तक 32 टेस्ट में 6 शतक और 1 दोहरे शतक के साथ 2141 रन बनाए हैं। 224 वनडे में उनके नाम 9115 रन दर्ज हैं। रोहित ने वनडे में 29 शतक के साथ 3 दोहरे शतक भी लगाए हैं। ऐसा करने वाले वे दुनिया के पहले खिलाड़ी हैं। रोहित ने 108 टी-20 में 2773 रन बनाए हैं। टी-20 फॉर्मेट में भी 4 शतक लगाने वाले वे एकमात्र बल्लेबाज हैं।

रोहित की विनेश, नीरज, मनिका और रानी रामपाल से टक्कर
विनेश फोगाट: कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने वाली देश की महिला पहलवान विनेश फोगाट को खेल रत्न के लिए लगातार तीसरे साल नॉमिनेट किया गया है। उन्होंने पिछले साल वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। वे रेसलिंग में पहला ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाली महिला रेसलर हैं।

मनिका बत्रा: 24 साल की मनिका बत्रा ने साल 2018 में कॉमनवेल्थ गेम्स के सिंगल्स वर्ग में गोल्ड मेडल जीता था। वो ऐसा करने वाली देश की पहली महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी बनी थीं। कॉमनवेल्थ गेम्स में 4 गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी हैं। मनिका का नाम दूसरी बार भेजा गया है।

रानी रामपाल: भारतीय महिला हॉकी टीम ने रानी रामपाल की कप्तानी में पिछले साल टोक्यो ओलिंपिक का टिकट हासिल किया है। उसी साल उन्हें खेल रत्न के लिए भी नॉमिनेट किया गया था। रानी की कप्तानी में भारत ने 2017 में महिला एशिया कप जीता था। 2018 में एशियाई खेलों में सिल्वर मेडल भी अपने नाम किया था। रानी ने एफआईएच ओलिंपिक क्वालीफायर 2019 में भारत को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

नीरज चोपड़ा: नीरज टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुके हैं। हाल ही में वे चोट के कारण एक साल बाहर रहे थे। उन्हें 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने के बाद उसी साल अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्होंने 2018 एशियाई खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था।

विराट कोहली को शून्य पॉइंट के साथ अवॉर्ड मिला था।

दरअसल, क्रिकेट में किसी को कोई मेडल नहीं मिलता है। न ही यह ओलिंपिक खेल है। ऐसे में क्रिकेट को कोई पॉइंट नहीं मिलते हैं। 2018 में भारतीय कप्तान विराट कोहली शून्य पॉइंट के साथ कमेटी में बहुमत के कारण अवॉर्ड से सम्मानित हुए थे। तब कोहली के अलावा वेटलिफ्टर मीरा बाई चानू को भी खेल रत्न मिला था।

तब 80 पॉइंट वाले रेसलर बजरंग पूनिया काफी नाराज हुए थे और उन्होंने कोर्ट में अपील भी की थी। हालांकि, यह मामला रफा-दफा हो गया और फिर 2019 में बजरंग को खेल रत्न से सम्मानित किया गया था। उन्हें पैरालिंपिक दीपा मलिक के साथ यह सम्मान मिला था। वहीं, पहला खेल रत्न पुरस्कार शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद को 1991-92 में मिला था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Rohit Sharma Khel Ratna Award Meeting of Sports Ministry News Updates Vinesh Phogat Rani Rampal Neeraj chopra


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Q0vmXU

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.