Header Ads

डोनाल्ड ट्रम्प 2021 नोबेल पीस प्राइज के लिए नॉमिनेट, नॉर्वे के सांसद ने इजराइल और यूएई के बीच समझौता कराने के लिए यह प्राइज देने की सिफारिश की

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प 2021 नॉबेल शांति पुरस्कार के लिए नॉमिनेट किए गए हैं। फॉक्स न्यूज के मुताबिक, नॉर्वे के सांसद क्रिस्चियन टिबरिंग गेये ने ट्रम्प को प्राइज देने के लिए नॉबेल कमेटी को लेटर लिखा है। गेये ने ट्रम्प को इजराइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के बीच शांति समझौता करवाने के लिए ट्रम्प को यह पुरस्कार देने की सिफारिश की है। इससे पहले 2018 में भी ट्रम्प को उत्तर कोरिया से विवाद सुलझाने के लिए भी इस पुरस्कार के लिए नॉमिनेट किया गया था।

गेये ने नोबेल कमेटी को भेजी गई चिट्ठी में लिखा है- उम्मीद है कि यूएई और इजराइल के बीच शांति समझौते के बाद मध्य पूर्व के दूसरे देश भी ऐसा ही करेंगे। यह समझौता गेम चेंजर होगा। इससे पूरे क्षेत्र में आपसी सहयोग बढ़ेगा और समृद्धि आएगी।

गेये ने कहा- तथ्यों पर गौर करे नोबेल कमेटी

गेये ने कहा- मैं ट्रम्प का बड़ा समर्थक नहीं हूं, लेकिन दूसरे नेताओं को फैसले लेने के मामले में ट्रम्प को फॉलो करना चाहिए। कमेटी को पुरस्कार देने में तथ्यों पर गौर करना चाहिए। इस बात पर नहीं कि वे कभी-कभी किस तरह का बर्ताव करते हैं। मुझे लगता है कि ट्रम्प ने देशों के बीच शांति कायम करने के लिए ठीक उसी तरह काम किया है जैसा कि नॉबेल शांति पुरस्कार के लिए दूसरे नोमनी करते हैं। हाल के सालों में जिन लोगों ने पीस प्राइज जीता है उन्होंने ट्रम्प से काफी कम काम किया है। उदाहरण तौर पर देखें तो बराक ओबामा ने कुछ नहीं किया।

अमेरिका के चार राष्ट्रपतियों को मिल चुका है यह पुरस्कार

अब तक अमेरिका के चार राष्ट्रपतियों को नोबेल शांति पुरस्कार मिल चुका है। सबसे पहले 1906 में थियोडोर रूजवेल्ट को यह प्राइज दिया गया था। 1919 में वूड्रो विल्सन को, 2002 में जिमी कार्टर को और 2009 में बराक ओबामा काे यह प्राइज मिला है। ओबामा को यह प्राइज इंटरनेशनल डिप्लोमेसी को मजबूत बनाने और लोगों के बीच सहयोग बढ़ाने के लिए दिया गया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो 13 अगस्त की उस बैठक की है जिसमें ट्रम्प ने इजराइल और यूएई के बीच समझौता कराया था। इसी समझौते को कराने के लिए ही उन्हें नोबेल पीस प्राइज देने की सिफारिश की गई है।- फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2FlpN3U

No comments

Powered by Blogger.