Header Ads

अमेरिका में एक हफ्ते में पांच लाख नए संक्रमित; फ्रांस में एक महीने के लॉकडाउन की तैयारी

दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4.42 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 3 करोड़ 24 लाख 12 हजार 703 मरीज रिकवर हो चुके हैं। अब तक 11.71 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। अमेरिका में एक हफ्ते में पांच लाख नए मामले सामने आ चुके हैं। इसी दौरान 5600 लोगों की मौत हो गई। दूसरी तरफ, फ्रांस सरकार ने एक महीने के लॉक डाउन की तैयारी कर रही है।

अमेरिका में बिगड़ रहे हालात
अमेरिका में चुनाव बिल्कुल सिर पर है, लेकिन यहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। एक हफ्ते में पांच लाख से ज्यादा नए संक्रमित मिले हैं। इसी दौरान 5600 संक्रमितों की मौत हो गई। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने यह जानाकारी दी है। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य इलिनॉइस है। 31 हजार मामले इसी राज्य में सामने आए। पेन्सिलवेनिया और विस्कॉन्सिन में भी हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं। विस्कॉन्सिन के हेल्थ इंचार्ज आंद्रे पॉम ने कहा- हम चाहते हैं कि चुनाव के लिए मतदान के दौरान कोरोना दिक्कत न बने। इसके लिए हर जरूरी व्यवस्था की जा रही है।

फ्रांस में एक महीने के लॉकडाउन की तैयारी
फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर को देखते हुए सरकार सतर्क हो गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुरुवार रात से देश में लॉकडाउन लगाया जाएगा। आज रात राष्ट्रपति एमेनुएल मैक्रों राष्ट्र को संबोधित करने वाले हैं। माना जा रहा है कि इसी संबोधन के दौरान लॉकडाउन की जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही कुछ और प्रतिबंधों का ऐलान भी किया जा सकता है। खास बात ये है कि पहली बार सरकार यह बता सकती है कि पर्यटकों को लेकर उसकी रणनीति क्या है। मैक्रों ने पिछले हफ्ते कहा था कि देश में पर्यटकों की वजह से भी संक्रमण फैल रहा है। लिहाजा, इस बारे में नए सिरे से रणनीति बनाई जा रही है।

पेरिस के एक रास्ते पर मौजूद एक कपल। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों आज देश को संबोधित करने जा रहे हैं। तय माना जा रहा है कि वे एक महीने के लॉकडाउन का ऐलान करेंगे।

चीन में नए केस
चीन में 27 अक्टूबर को 42 नए मामले सामने आए। ये सभी मामले शिनजियांग में सामने आए हैं। हेल्थ अथॉरिटी ने कहा है कि 22 केस लोकल ट्रांसमिशन के हैं। इससे अधिकारियों की चिंता बढ़ रही है। इसकी वजह यह है कि चीन अकसर यह दावा करता है कि उसके यहां लोकल मामले नहीं हैं। चीन में अब कुल मिलाकर 85,868 केस सामने आ चुके हैं। मरने वालों का आंकड़ा 4634 है।

चीन के शिनजियांग प्रांत में एक संक्रमित की जांच करता हेल्थ वर्कर। चीन में एक दिन में 42 मामले सामने आए। खास बात ये है कि ये सभी लोकल ट्रांसमिशन के हैं।

ब्रिटेन में हेल्थ वर्कर्स को मिलेगी वैक्सीन
ब्रिटेन सरकार ने फैसला किया है कि देश के हेल्थ नेटवर्क जिसे एनएचएस कहा जाता है, के सभी वर्कर्स को क्रिसमस के पहले ही वैक्सीन उपलब्ध करा दिया जाएगा। हालांकि, इस बारे में फिलहाल आधिकारिक तौर पर कोई बयान जारी नहीं किया गया है। एनएचएस के ट्रस्ट चीफ ने कहा- पूरी उम्मीद है कि क्रिसमस के पहले हमारे पास एक बेहतरीन वैक्सीन होगा। लेकिन, इसका पहला हक एनएचएस के फ्रंट लाइन वर्कर्स को है। अमेरिका में भी तीसरे चरण के वैक्सीन ट्रायल शनिवार से शुरू हो गए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
नॉर्थ डकोटा के एक हाईवे पर कोरोना सैम्पलिंग करता हेल्थ वर्कर। अमेरिका में एक हफ्ते में पांच लाख से ज्यादा संक्रमित मिले हैं। देश में 3 नवंबर को चुनाव हैं। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jIjE0x

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.