Header Ads

एरिजोना में जो बाइडेन जीते, राज्य में 24 साल बाद डेमोक्रेट उम्मीदवार की जीत

अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन ने एरिजोना में भी जीत हासिल की है। इससे उनके खाते में 11 इलेक्टोरल वोट और जुड़ गए। राज्य में 24 साल बाद कोई डेमोक्रेट उम्मीदवार जीता है। इससे पहले 1996 में बिल क्लिंटन यहां जीते थे।

इस जीत के साथ बाइडेन के पास 290 इलेक्टोरल वोट हो गए हैं। व्हाइट हाउस की दौड़ जीतने के लिए उन्हें 270 वोटों की जरूरत थी। ट्रम्प को 217 वोट ही मिल पाए हैं। जॉर्जिया और नॉर्थ कैरोलिना में काउंटिंग अब भी चल रही है। 16 इलेक्टोरल वोट वाले जॉर्जिया में बाइडेन और 15 इलेक्टोरल वोट वाले नॉर्थ कैरोलिना में ट्रम्प आगे हैं।

जीत का अंतर बहुत मामूली

बाइडेन को एरिजोना में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प से महज 11 हजार यानि 0.3% वोट ही ज्यादा मिले हैं। चार साल पहले ट्रम्प ने 3.5% वोट ज्यादा हासिल कर यह राज्य जीता था। यहां ज्यादातर समय रिपब्लिकन पार्टी का राज रहा है। बिल क्लिंटन से पहले 1948 में यहां के लोगों ने हैरी एस ट्रूमैन को सपोर्ट किया था।

ट्रम्प कैम्पेन ने दायर किया केस

ट्रम्प कैम्पेन ने एरिजोना में भी एक मुकदमा दायर किया है। इसमें आरोप लगाया गया है कि राज्य की सबसे बड़ी काउंटी, मैरिकोपा में पोल वर्कर ने गलत तरीके से लोगों पर अपने वोट देने का दबाव डाला। एरिजोना के अटॉर्नी जनरल मार्क ब्रनोविच ने बुधवार को बताया कि राज्य के अधिकारियों को चुनाव के बारे में एक हजार शिकायतें मिली थीं, लेकिन मतदाता धोखाधड़ी के कोई सबूत नहीं मिले। मार्क ब्रनोविच खुद रिपब्लिकन पार्टी से हैं।

ट्रम्प के पास कानूनी रास्ते भी कम

रिपब्लिकन लगातार चुनाव नतीजों के खिलाफ कानूनी दांवपेंच चल रहे हैं। हालांकि, अब उनके पास ज्यादा रास्ते नहीं रह गए हैं। उदाहरण के लिए, ट्रम्प को बाइडेन की जीत को पलटने के लिए पेनसिल्वेनिया में लगभग 55 हजार वोटों को खारिज कराना होगा।

पेनसिल्वेनिया के अटॉर्नी जनरल, जोश शापिरो के ऑफिस ने कहा है कि ट्रम्प के वकील लगातार फर्जीवाड़े का दावा कर रहे हैं, लेकिन फिलाडेल्फिया या पेनसिल्वेनिया में कहीं चुनावी धोखाधड़ी हुई है, इसका कोई सबूत नहीं है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
एरिजोना में जीत के साथ ही बाइडेन के पास 290 इलेक्टोरल वोट हो गए हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3f2pCbF

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.